Blogger: साहित्य शिल्पी at साहित्य शिल्...
रचनाकार परिचय:- राजीव रंजन प्रसाद राजीव रंजन प्रसाद ने स्नात्कोत्तर (भूविज्ञान), एम.टेक (सुदूर संवेदन), पर्यावरण प्रबन्धन एवं सतत विकास में स्नात्कोत्तर डिप्लोमा की डिग्रियाँ हासिल की हैं। वर्तमान में वे एनएचडीसी की इन्दिरासागर परियोजना में प्रबन्धक (पर्यवरण) के प...
clicks 1 View   Vote 0 Vote   12:00am 23 Apr 2018
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
   निकट समय तक, ग्रामीण आयरलैंड के अनेकों कस्बों में घरों के नंबर अथवा पिन कोड का प्रयोग नहीं होता था। इसलिए यदि एक ही नाम के एक से अधिक व्यक्ति उस कस्बे में रहते थे, तो डाक सबसे पहले उस नाम के वहाँ सबसे अधिक समय से रहने वाले व्यक्ति को दी जाती थी, जो उसे पढ़कर यदि उससे संब...
clicks 2 View   Vote 0 Vote   8:45pm 22 Apr 2018
Blogger: Bhoomigyan at SHAYARI ONLINE...
बेशक़ तुने ख्वाहिशों को, भुलाकर मुस्कुराना सीखा है.. पर जमाना तेरी रूह तक, कफन का हिसाब मांगेगा..⇒Read Maa-Baap Shayari Advertisements __ATA.cmd.push(function() { __ATA.initSlot('atatags-26942-5adccbae916e0', { collapseEmpty: 'before', sectionId: '26942', width: 300, height: 250 }); }); __ATA.cmd.push(function() { __ATA.initSlot('atatags-114160-5adccbae916e2', { collapseEmpty: 'before', sectionId: '114160', width: 300, height: 250 }); }...
clicks 1 View   Vote 0 Vote   6:37pm 22 Apr 2018
Blogger: प्रमोद जोशी at Gyaankosh ज्ञानकोश...
गत 29 जनवरी को बजट सत्र के अभिभाषण में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राज्य विधानसभाओं के और लोकसभा के चुनाव एकसाथ कराने की वकालत करते हुए कहा कि इस विषय पर चर्चा और संवाद बढ़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश के किसी न किसी हिस्से में लगातार हो रहे चुनाव से अर्थव्यवस्था और विक...
clicks 3 View   Vote 0 Vote   5:46pm 22 Apr 2018
Blogger: प्रमोद जोशी at जिज्ञासा...
सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग लाए जाने के पक्ष में एक दलील यह दी जा रही है कि महाभियोग सांविधानिक-व्यवस्था है और संविधान में बताए गए तरीके से ही इसका नोटिस दिया गया है.दूसरी बात यह कही जा रही है कि इसके पीछे राजनीतिक उद्देश्य नहीं हैं, य...
clicks 7 View   Vote 0 Vote   9:43am 22 Apr 2018
Blogger: अमोल सरोज at अमोल सरोज स्ट...
"अगर  एकलड़कीअगरशालीनकपडेपहनतीहैतोकोईलड़काउसेग़लतनजरसेनहींदेखेगा।अगरआजादीचाहिएतोनंगेघूमनाचाहिए।आजादीकीअपनीसीमायेंहै।छोटेछोटेकपडेपश्चिमपहनावाहैहमारीसंस्कृतिशालीनकपडेपहननेकीहै।""बालविवाहबलात्कारऔरमहिलाओकेखिलाफबाकीअपराधरोकनेमेंमददगारहै।""अगरल...
clicks 4 View   Vote 0 Vote   8:17am 22 Apr 2018
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" at उच्चारण...
वेदना के "रूप"को पहचानते हैं। धूप में घर सब बनाना जानते हैं।।भावनाओं पर कड़ा पहरा रहा, दुःख से नाता बड़ा गहरा रहा, मीत इनको ज़िन्दग़ी का मानते हैं। धूप में घर सब बनाना जानते हैं।। काल का तो चक्र चलता जा रहा है वक़्त ऐसे  ही निकलता जा रहा, ख़ाक क्यों दरबार की ...
clicks 4 View   Vote 0 Vote   7:56am 22 Apr 2018
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" at चर्चामंच...
मित्रों!  रविवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक।  (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')  -- दोहे   "पृथ्वी दिवस-बंजर हुई जमीन"   उच्चारण  -- ----- ॥ हर्फ़े-शोशा 4॥ -----  मतलब परस्ती की लगाईं कहीं आतिशी आग जले.., तारीके-शब को सहर किए कहीं चश्मे-चराग़ जले.... ...
clicks 4 View   Vote 0 Vote   3:30am 22 Apr 2018
Blogger: Sanjay Grover at नास्तिक The Atheist...
(पिछला हिस्सा)मंदिर में बलात्कार हुआ, इसमें हैरानी की क्या बात है !?गाना नहीं सुना आपने-ःभगवान के घर देर है अंधेर नहीं है.....’और कहावत-‘भगवान जो भी करता है अच्छा ही करता है......’एक और कहावत-‘जैसी भगवान की मर्ज़ी’मानता हूं तो लगता है कि कहावतें बुद्धिमानों ने बनाईं हैं। सोचता ...
clicks 8 View   Vote 0 Vote   6:32pm 21 Apr 2018
Blogger: RAVINDRA PRABHAT at परिकल्पना...
आज हिंदी ब्लागिंग की 15वीं वर्षगाँठ है। वर्ष 2003 में यूनीकोड हिंदी में आया और तद्नुसार हिन्दी ब्लॉग का शुभारम्भ हुआ। पूर्णतया हिन्दी में ब्लॉगिंग आरंभ करने का श्रेय आलोक कुमार को जाता है, जिन्होंने 21 अप्रैल 2003 को हिंदी के प्रथम ब्लॉग ’नौ दो ग्यारह’ से इसका आगाज किया था। य...
clicks 6 View   Vote 0 Vote   6:10pm 21 Apr 2018
Blogger: माधवी रंजना at DAANA PAANI...
अपना सामान लेकर हम जैसे ही जयगांव से भूटान के फुंटशोलिंग शहर में घुसे, एक शेयरिंग टैक्सी वाले हमारे पीछे पड़ गए, थिंपू चलना है क्या दो सवारी आगे की सीट खाली है। हम यही तो चाहते थे। बाकी सीटें भर चुकी हैं बस चलना है। फुंटशोलिंग से थिंपू 172 किलोमीटर है। शेयरिंग सूमो, बुलेरो ...
clicks 5 View   Vote 0 Vote   12:30pm 21 Apr 2018
Blogger: Kamlendra Kamde at Hindi Tech Nature...
एक स्मार्टफोन में 2 WhatsApp  कैसे चलायें ?    Hello Freinds, आप सभी पाठकों का मेरे इस साइट Hindi Tech Natureमें स्वागत है. आज का मेरा यह पोस्ट व्हाट्स एप्प ट्रिक्स पर है.Ek Smartphone Me 2 WhatsApp Kaise Chalayen ?आज दुनिया में व्हाट्स एप्प सबसे ज्यादा Use किया जाने वाला पॉपुलर Messaging app है जहाँ आप Text, Photo, Video, Document Share कर सकते हैं ...
clicks 8 View   Vote 0 Vote   9:41am 21 Apr 2018
Blogger: chakresh at Someone Somewhere...
दीदार होगा उनका जाने कितने सालों बादसामने होंगे हुजूर हमारेकुछ पल हमारे अपने होंगेजाने कितने सालों बादसावन आता हैं स&#...
clicks 2 View   Vote 0 Vote   8:57am 21 Apr 2018
Blogger: Deepak Kumar Bhanre at .मेरी अभिव्यक...
आज एक मासूम का सुरक्षित नहीं है मान सम्मान और जहान।आखिर बेटियों को क्यों शिकार बना रहा है  हर उम्र का इंसान।क्या हमारी सामाजिक व्यवस्था का धवस्त हो रहा है तान बान।या आज के माता पिता नहीं बना पा रहें बच्चों को संस्कारवान ।क्या नंबरों की होड़ वाली शिक्षा व्यवस्था का भी ...
clicks 5 View   Vote 0 Vote   10:19pm 20 Apr 2018
Blogger: Ajit at अजित गुप्‍ता ...
बात 90 के दशक की है,हमारे कॉलेज में जब परीक्षाएं होती थी तब परीक्षा केन्द्रों पर सारे ही अध्यापकों की ड्यूटी लगती थी,लेकिन मेरी कभी नहीं। मैं सोचती थी शायद महिला होने के कारण मुक्ति मिल जाती होगी लेकिन फिर बाद में महिला होने के कारण ही लगने लगी,क्योंकि परीक्षा तो बालिका...
clicks 4 View   Vote 0 Vote   12:05pm 20 Apr 2018
Blogger: लिली मित्रा at मेरी अभिव्यक...
                       (चित्राभार इन्टरनेट)कब खोया तुम्हेजो तुम्हे 'मिस करूँ'साथ ही तो रहते हो,खाते हो,टहलते हो,सोते हो,,,,लगता ही नही तुमअब मुझसे दूर रहते हो!!!!जब तुम कर गुस्साआता है,,आटा अच्छा गुथजाता है,,जब तुम पर प्यारआता है,,सब्जी का स्वादबढ़ जाता है,,जब तुमकोबा...
clicks 3 View   Vote 0 Vote   8:42am 20 Apr 2018
Blogger: जय भारद्वाज jai bhardwaj at kabhee - kabhee ~~~~ कभी ...
पाँच प्रश्न और कक्षोन्नतिहमारे पडोसी गाँव से पंडित राम भरोसे दीक्षित बचपन में हमें प्रारम्भिक शिक्षा देने के लिए आते थे. शाम को पाँच बजे वे आते और बाहर छप्पर के नीचे पड़े तख़्त पर बैठ कर एक हाँक लगाते : चलौ रे . और हम जहाँ भी होते अपना अपना बस्ता पाटी लेकर भागते हुए उनके पास ...
clicks 9 View   Vote 0 Vote   5:18pm 19 Apr 2018
Blogger: तीखी बात at Tikhibat...
जय हिन्द दोस्तों, जैसा कि आप जानते हैं कि घंटा न्यूज़ में देश के सबसे गंभीर मुद्दों पर घंटा भी चर्चा नहीं होती, पिछले दिनों ऐसे बहुत से मुद्दे छाये रहे, आइये शुरू करते हैं. काफी दिनों से सैफ और करीना खासे परेशान चल रहे थे और उन की परेशानी का सबब था कि देश के इकलौते होनहार बा...
clicks 7 View   Vote 0 Vote   3:28pm 19 Apr 2018
Blogger: j chaube at (VIKALP) विकल्प...
      रायपुर शहर एक छोटे से कस्बे से धीरे धीरे आज छत्तीसगढ़ की राजधानी के रूप में लगातार विकसित हो रहा है । इत्तेफाक ये भी है कि इस वर्ष हम अपने नगर की पालिका का150 वॉ वर्ष भी मना रहे हैं ।         हमारी पीढ़ी अपने शहर के पुराने दौर के बारे में लगभग अनभिज्...
clicks 2 View   Vote 0 Vote   3:07pm 19 Apr 2018
[ Prev Page ] [ Next Page ]

 
CONTACT US ADVERTISE T&C

Copyright © 2009-2013