मेरी जुबानी

धुंँधले अल्फाज़..

छूटा कुछ भी नहीं है ।जिन्दगी के हर सफ़हे कोबड़ी इत्मीनान से पढ़ा है मैंने।मटमैली जिल्द चढ़ी वह किताबबिलकुल सही पते पर आई थी।अच्छी तरह से उलट - पलट करबड़े ...
clicks 23  Vote 0 Vote  9:59pm 6 Feb 2019

आया वसंत.. हाइकू

आया वसंत (हाइकू)आया वसंत    कूजति कोयलिया         गूंजी धरणीफूली सरसो    पियराई अवनि        छाई मुस्कानअमराई में   मंजरी निहारत      ...
clicks 2  Vote 0 Vote  11:24am 6 Feb 2019

सिसकती यादें....

सिसकती यादें...उस पुराने संदूक मेंपड़ी थी यादों कीकुछ किरचें.खुलते हीहरे हो गएकुछ मवादी जख्म.जो रिस रहे थेधीरे - धीरे.खुश थेअपनी दुर्गंध फैलाकर.दफ्न कर के...
clicks 9  Vote 0 Vote  11:11am 2 Feb 2019

वो संदली एहसास...

वो संदली एहसास..खुलायादों का किवाड़,और बिखर गईहर्ष की अनगिनस्मृतियाँ.झिलमिलातीरोशनी में नहाईवो शुभ्र धवल यादें,मेरे दामन से लिपट करकरती रही किलोल.रोमा...
clicks 5  Vote 0 Vote  12:04am 2 Feb 2019

पथिक अहो...

पथिक अहो.....मत व्याकुल हो!!!डर से न डरोन आकुल हो।नव पथ का तुम संधान करोऔर ध्येय पर अपने ध्यान धरो ।नहीं सहज है उसपर चल पाना।तुमने है जो यह मार्ग चुना।शूल कंट...
clicks 3  Vote 0 Vote  10:48pm 28 Jan 2019

यह भी तो कहो.....

ठहरो!!!मेरे बारे में कोई धारणा न बनाओ।यह आवश्यक तो नहीं,कि जो तुम्हें पसंद है,मैं भी उसे पसंद करूँ।मेरा और तुम्हारापरिप्रेक्ष्य समान हो,ऐसा कहीं लिखा भी त...
clicks 21  Vote 0 Vote  7:46pm 27 Jan 2019

कोल्हू का बैल

कोल्हू का बैलबैल है वह कोल्हू कानधा रहता है सततविचारशून्‍य हो कोल्हू में .कुदरत की रंगीनियों से अनजानस्याह उमस भरी चारदीवारी के भीतरकोल्हू के इर्दगिर...
clicks 3  Vote 0 Vote  12:47am 24 Jan 2019

तहरीर

तहरीरअपने हाथों से अपनी तकदीर लिखनी हैअब मुझे एक नई तहरीर लिखनी है।डूबेगी नहीं मेरी कश्ती साहिल पे आकेसमंदर के आकिबत अब जंजीर लिखनी है ।जिनकी कोशिश थी ह...
clicks 4  Vote 0 Vote  10:04pm 19 Jan 2019

मर्जी तो मेरी ही चलेगी......

आज कल वो रोज मिलने लगा है.बेवक्त ही, आकर खड़ा हो जाता हैमेरी दहलीज पर."कहता है- तुम्हारे पास ही रहूँगा.बड़ा लगाव है, बड़ा स्नेह है तुमसे."पर मुझे उससे प्यार न...
clicks 4  Vote 0 Vote  1:33pm 18 Jan 2019

एक थी मेघना शिर्के..... (कहानी )

एक थी मेघना शिर्के .....गर्मी की छुट्टियाँ ख़त्म हो गई थी।विद्यालय का पहला दिन था। सभी बच्चों में एक नया उत्साह, नया जोश नजर आ रहा था। एक दूसरे से बहुत दिन बा...
clicks 3  Vote 0 Vote  9:08pm 12 Jan 2019
[ Prev Page ] [ Next Page ]
 
CONTACT US ADVERTISE T&C

Copyright © 2009-2013