नमस्ते namaste

जिद्दी है ज़िंदगी

राह बहुत लंबी बाकी है अभी.कोई बात नहीं.कट जायेगा ये भी.वक़्त बुरा ही सही.एक दिन बदलेगा ही.कभी धूप होगी.कभी छाँव भी.कभी घटा बरसेगी.पवन चुभेगी तीर सी.कभी बात ...
clicks 1  Vote 0 Vote  11:52pm 19 Jan 2022

समय का अल्पविराम

हो रहा है इस बरस काअंतिम सूर्यास्त ।कह रहा है अलविदा ढलते हुए आज । वक्त रहते कह डालोजी में अटकी बात ।समय बीतने से पहले सुलझा लो उलझे याम ।सांझ का पट ढ...
clicks 13  Vote 0 Vote  10:41pm 31 Dec 2021

पन्ना पलटने से पहले

पन्ना पलटने से पहले एक बार बसपीछे पलट कर देखना ।कुछ पल एकांत में पढ़ना,लिखा प्रारब्ध का ।क्या पीछे छूट गया,क्या छोङ देना चाहिए ।छोङ देना चाहिए अफ़सोस और ग...
clicks 34  Vote 0 Vote  10:28pm 7 Dec 2021

चलते-चलते मिलेंगी राहें

जब चल ही पङे हैं,तो पहुँच ही जाएंगे ।जहाँ पहुँचना चाहते थे वहाँ ,या रास्ता जहाँ ले चले वहाँ ।रास्ता भूल भी गए तो क्या ?एक नया रास्ता बनता जाएगा,अगर चलने वाल...
clicks 133  Vote 0 Vote  9:22pm 2 Dec 2021

सूरज के सिपाही

कुम्हार के चाक पर मिट्टी और नमी से गढ़े गए हैं हम ।मिट्टी के दिये हैं हम।बच्चों की हठ पर हाट-बाज़ार से खरीदे गए हैं हम ।मिट्टी के दिये हैं हम ।कल्पन...
clicks 63  Vote 0 Vote  11:58pm 3 Nov 2021

आओ माँ !

आओ माँ !आओ माँ करने दुष्टता का संहार !आओ माँ हो कर सिंह पर सवार !अपनी दुर्बलताओं से हम गए हार !तुम पग धरो धरणी पर करो प्रहार !हमारे प्राणों में हो शक्ति का संच...
clicks 82  Vote 0 Vote  12:07am 7 Oct 2021

कहानी

कविता का ऑडियो लिंककहानी कहानी होती है ।कितनी भी सच्ची लगे !जितनी भी दिल को छुए ।कहानी कहानी होती है ।कहानियों से क्या होता है ?कहानियों से क्या होता है ?ह...
clicks 65  Vote 0 Vote  9:39pm 11 Jul 2021

प्रतिबिंब

फूल की पंखुरीया पत्ते पर ठिठकीपानी की इक बूँद, क्षणभंगुर जीवन केअप्रतिम सौंदर्य की प्रामाणिक छवि है ।ये भी हो सकता है यह पारदर्शी बूँद चुपके से ढ...
clicks 73  Vote 0 Vote  11:22pm 15 Jun 2021

करावलंबन

कच्ची उम्र के बच्चेअनुभव के कच्चेछोटे-छोटे हादसेक्यों सह नहीं पाते ?क्यों उनके भीतर जवान होता बच्चाइतना सहम गयाकि आत्मघात करना पड़ा ??उम्मीद बर ना आयेतो ...
clicks 79  Vote 0 Vote  11:27pm 25 May 2021

गिरिधर

जब तब मैंने उलाहना दे दे खूब सताया है गोविंद को अपने,रो-रो के व्यर्थ में पाथर कह डाला है,अपने कष्ट के झोंटे में कान्हा को ठेल दिया है..पर गोविन्द न...
clicks 88  Vote 0 Vote  12:16pm 18 May 2021
[ Prev Page ] [ Next Page ]
 
CONTACT US ADVERTISE T&C [ FULL SITE ]

Copyright © 20018-2019