Kalam Ka Sipahi /a blog by Rajesh Tripathi

ओरछा जहां आज भी है राम राजा सरकार का राज

अगर आपसे यह कहा जाये कि अभी कलियुग में भी राजा राम एक जगह राजा के रूप में राज करते हैं  पर वह जगह अयोध्या नहीं है तो आपको शायद ही विश्वास हो। पर यह सच है कि ...
clicks 7  Vote 0 Vote  10:18pm 7 Apr 2021

क्या महाभारत युद्ध में हुआ था परमाणु अस्त्रों का प्रयोग ?

 ब्रह्मास्त्र का निर्माण ब्रह्मा जी ने किया था. इसको राक्षसों के विनाश के लिए बनाया गया था। उनके नाम से ही इसे ब्रहमास्त्र के रूप में जाना जाता है। रामा...
clicks 13  Vote 0 Vote  9:44pm 3 Apr 2021

शिव जी के सिर पर चंद्रमा होने का रहस्य

भगवान शिव का चित्र जब हम देखते हैं तो उनके हर चित्र में उनके मस्तक पर चंद्रमा शोभायमान रहता है। यही कारण है कि शिव का एक नाम शशिधर भी है। शशि अर्थात चंद्रम...
clicks 56  Vote 0 Vote  12:53pm 8 Mar 2021

जागिये रघुनाथ कुंवर, पंछी बन बोले.

 जागिये रघुनाथ कुंवर, पंछी बन बोले...जागिये रघुनाथ कुंवर, पंछी बन बोले...चंद्र किरण शीतल भई, चकवी पिय मिलन गई,त्रिविधमंद चलत पवन, पल्लव द्रुम डोले...जागिये र...
clicks 39  Vote 0 Vote  9:11am 6 Mar 2021

भरी उनकी आंखों में है कितनी करुणा

 भरी उनकी आँखों में है, कितनी करुणाजाकर सुदामा भिखारी से पूछोहै करामात क्या उनके चरणों की रजजाकर के गौतम की नारी से पूछोकृपा कितनी करते हैं शरणागतों पे...
clicks 26  Vote 0 Vote  8:21am 5 Mar 2021

भगवान विष्णु को सुदर्शन चक्र कैसे मिला?

 भगवान विष्णु का नाम आते ही उनकी जो चतुर्भुजी छवि हमारे मन-मानस में उभरती है उसमें शंख, चक्र, गदा, पद्म लिए ही प्रभु विष्णु दृष्टिगोचर होते हैं। उनकी छवि ...
clicks 49  Vote 0 Vote  1:07pm 3 Mar 2021

सिर पर शिखा या चोटी रखने का महत्व और लाभ

 सनातन धर्म  की परंपराओं में एक परंपरा सिर  पर शिखा या चोटी रखने की है। शिखा भी गाय के खुर के जितनी चौड़ी। वैसे आजकल इतनी चौड़ी शिखा की परंपरा तो इस्कॉ...
clicks 15  Vote 0 Vote  10:33pm 25 Feb 2021

परशुराम ने क्यों किया अपनी ही मां का वध?

परशुराम को भगवान विष्णु का छठा अवतार माना जाता है। त्रेता युग में उनका जन्म एक ब्राह्मण ऋषि के यहां हुआ था। ऐसा उल्लेख मिलता है कि उनका जन्म भृगुकुल में ह...
clicks 20  Vote 0 Vote  11:33am 19 Feb 2021

ऐसे करें विद्या की देवी सरस्वती का आराधन

जब ब्रह्मा सृष्टि की रचना कर रहे थे उसी समय उनके मुख से सरस्वती का जन्म हुआ। मां सरस्वती ने जब वीणा बजानी प्रारंभ की तो सारा जग आऩंद विभोर हो गया।  वसंत...
clicks 32  Vote 0 Vote  9:45am 15 Feb 2021

इंद्र ने दधीचि से क्यों मांगा अस्थियों का दान?

आपमें से जिन लोगों को धार्मिक, पौराणिक कथाएं पढ़ने में रुचि है उन्होंने ऋषि दधीचि द्वारा अपनी अस्थियों का दान दिये जाने की बात मालूम  होगी। हम आपको यह ब...
clicks 18  Vote 0 Vote  11:54am 13 Feb 2021
[ Prev Page ] [ Next Page ]
 
CONTACT US ADVERTISE T&C [ FULL SITE ]

Copyright © 20018-2019