Blogger: nilesh mathur at आवारा बादल...
ये जो उलझनें हैं जीवन की मुझे इनके पार जाना हैकुछ पाने की चाहत है कही दूर खो जाना है,थक चुका अब तन और भटक रहा है मनवो कौन सा है पथजहाँ मुझे जाना है और मंज़िल को पाना है,जीवन मरण के इस चक्र से अब मुक्त हो जाना हैफिर नहीं आना है दूर कहीं खो जाना है, अब तक चला ...
clicks 9 View   Vote 0 Vote   1:56am 17 Aug 2018
Blogger: माधवी रंजना at DAANAPAANI...
बालाजी के दर्शन के बाद हम भुवनगिरी बाजार के बस स्टैंड  पहुंच गए हैं। काफी गरमी है तो थोड़ा जूस ले लेना चाहिए। अब बात भुवनगिरी की। भुवनगिरी नाम सही है, पर अंग्रेजी में इसका स्पेलिंग है उसके हिसाब से इसे भोंगीर पढ़ा जाएगा। तो इसकी अंगरेजी की स्पेलिंग ठीक किए जाने की ज...
clicks 7 View   Vote 0 Vote   12:30am 17 Aug 2018
Blogger: सु-मन (Suman Kapoor) at बावरा मन...
पक्का निश्चय करसाध कर अपना लक्ष्यचले थे इस बार ये कदममंजिल की ओरमन में विश्वास लिएमान ईश्वर को पालनहारकर दिया था अर्पित खुद कोउस दाता के द्वारमेहनत का ध्येय लिएकर दिए दिन रात एकत्याग दिए थे हर सुख साधनकर्म के इम्तिहान मेंकभी किसी पलतुम आकर मुझे डरातेतोड़ने लगते थे मे...
clicks 13 View   Vote 0 Vote   11:19pm 16 Aug 2018
Blogger: Alpana at Vyom ke Paar...व्योम क...
एक बेहद प्रभावशाली व्यक्तित्व के राजनेता और मेरे प्रिय कवि अटल जी का निधन अपूर्णीय क्षति है। कुछ कहने की स्थिति में नहीं हूँ,सिर्फ मौन शेष है ।    श्रद्धांजलि :  ============= ...
clicks 15 View   Vote 0 Vote   7:35pm 16 Aug 2018
Blogger: Rector Kathuria at पंजाब स्क्री...
जीवन का प्रत्येक पल उन्होंने राष्ट्र को समर्पित-पीएम मोदी नयी दिल्ली: 16 अगस्त 2018: (पंजाब स्क्रीन ब्यूरो):: जिसे अफवाह बताया जा रहा था पांच बजे के बाद वो सच निकली। लोकप्रिय भाजपा नेता अटल बिहारी वाजपेयी नहीं रहे। औपचारिक घोषणा के मुताबिक पांच बज कर पांच मिंट पर आखिरी स...
clicks 2 View   Vote 0 Vote   6:00pm 16 Aug 2018
Blogger: Dr.Divya Srivastava at ZEAL...
कायर है वो!न सीने में आग है,न रक्त में उबाल है।अन्याय सहता हैचुप रहता हैआवाज़ नहीं उठातावक़्त से पहले बूढ़ा हो गया।जो लड़ते हैं ज़माने से,रखते हैं सरोकार समाज सेफिक्र करते हैं आने वाली पीढ़ियों कीउन पर ग्रहण बनकर बैठ जाते हैं,कायर हैं येनपुंसक हैं येनासूर हैं इस धरती का,बोझ ह...
clicks 10 View   Vote 0 Vote   5:01pm 16 Aug 2018
Blogger: Praveen Kumar Gupta at HAMARA VAISHYA SAMAJ - हमार...
स्वतन्त्रता प्रेमी वीर बालक : उदयचन्द जैन 15 अगस्त, 1947 भारत के लिए बहुत महत्त्वपूर्ण है, चूँकि इसी दिन देश अंग्रेजों की गुलामी से मुक्त हुआ था; पर इसके लिए न जाने कितने बलिदानियों ने अपने जीवन को होम कर डाला। ऐसा ही एक वीर बालक था उदयचन्द, जिसने 16 अगस्त, 1942 को आत्माहुति देक...
clicks 11 View   Vote 0 Vote   4:23pm 16 Aug 2018
Blogger: Dr T S Daral at अंतर्मंथन...
जिंदगी भर जीते रहे ,जिन्हे जिंदगी देने,सजाने और संवारने में।अब जब ,वे नभ में उड़ चले,और व्यस्त हैं ,स्वच्छंद जिंदगी बनाने में।तब एक बार फिरबस हम और तुम हैं ,तीसरा नहीं कोई हमारे बीच।बस 'तू'रहे और तेरा साथ ,डाले हाथों में हाथ,यूँ ही साथ साथ।चलो एक बार फिर से खोज लें ,हम और तु...
clicks 11 View   Vote 0 Vote   2:00pm 16 Aug 2018
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
 जौनपुर को शीराज़ ऐ हिन्द भी कहा गया है और यह एक शतक तक शार्की राज्य की राजधानी भी  रह चुका है । शर्क़ी समय में जौनपुर में बहुत से इमामबाड़े भी  बने जो आज भी अच्छी हालत में है ।  जौनपुर  में लखनऊ के बाद सबसे अधिक शिया रहते है और तादात के  हिसाब से ९०००० शिया मुस्लिम  ...
clicks 0 View   Vote 0 Vote   1:34pm 16 Aug 2018
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
 जौनपुर को शीराज़ ऐ हिन्द भी कहा गया है और यह एक शतक तक शार्की राज्य की राजधानी भी  रह चुका है । शर्क़ी समय में जौनपुर में बहुत से इमामबाड़े भी  बने जो आज भी अच्छी हालत में है ।  जौनपुर  में लखनऊ के बाद सबसे अधिक शिया रहते है और तादात के  हिसाब से ९०००० शिया मुस्लिम  ...
clicks 0 View   Vote 0 Vote   1:34pm 16 Aug 2018
Blogger: rewa tibrewal at प्यार ...
बरसात पर कुछ क्षणिकाएं १. एहसासों की बरसात तो बहुत हुई     पर दिल आजकल कंक्रीट का जंगल     हो गया है     बिना जज़्ब हुए बह जाते हैं एहसास......२. बड़ी मुश्किल से तन्हाई में    खुश रहना सीखा था मैंने    तेरी यादों की बरसात ने    मेरी तमाम कोशिशों को    बूँ...
clicks 0 View   Vote 0 Vote   11:49am 16 Aug 2018
Blogger: Asha News at Jhabua Hindi News, Live News Jhabua...
झाबुआ। जिले के दो दिवसीय भ्रमण पर आये झाबुआ जिले के प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग ने स्वतंत्रता समारोह के पश्चात हाथी पावा पहाडी पर विकसित पर्यटन स्थल पर पहुंच कर मध्यप्रदेश का तीसरा सबसे ऊंचा 100 फीट ऊंचा तिरंगा फहराया। हाथीपावा पहाडी पर सनसेट पाइंट का अवलोकन किय...
clicks 0 View   Vote 0 Vote   11:40am 16 Aug 2018
Blogger: Himkar Shyam at शीराज़ा [Shiraza]...
हज़ारों रंग ख़ुशबू से  बना गुलदान है भारत कई तहज़ीब,भाषा,धर्म की पहचान है भारत कहीं गिरजा, कहीं मस्जिद, शिवाला और गुरुद्वाराकभी होली कभी क्रिसमस कभी रमज़ान है भारत कोई नफ़रत भी बोता तो पनपती है मोहब्बत हीअज़ब जादू है माटी में, कोई वरदान है भारत चलो मिलकर बचाएँ हम इसे फ़िरक़...
clicks 10 View   Vote 0 Vote   10:20am 16 Aug 2018
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" at उच्चारण...
सीखो सबक विनाश से, समझो कुछ संकेत। मुखरित होकर कह रहे, बंजर होते खेत।१। सोच-समझकर खोलना, अपनी वाणी मित्र। जिह्वा देती है बता, अच्छा-बुरा चरित्र।२। सपनों की सुन्दर फसल, अरमानों का बीज। किन्तु हकीकत में नहीं, मिलती ऐसी चीज।३। कहीं किसी बाजार में, बिकती नहीं तम...
clicks 9 View   Vote 0 Vote   8:04am 16 Aug 2018
Blogger: प्रमोद जोशी at जिज्ञासा...
आम आदमी पार्टी से उसके वरिष्ठ सदस्य आशुतोष का इस्तीफा ऐसी खबर नहीं है, जिसके गहरे राजनीतिक निहितार्थ हों. इस्तीफे के पीछे व्यक्तिगत कारण नजर आते हैं. और समय पर सामने भी आ जाएंगे. अलबत्ता यह इस्तीफा ऐसे मौके पर हुआ है, जब इस पार्टी के भविष्य को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं. एक ...
clicks 11 View   Vote 0 Vote   7:58am 16 Aug 2018
Blogger: Bal Sajag at बाल सजग...
"गुरु का ज्ञान "अँधेरे में हर व्यक्ति घबराते हैं, गुरु की ज्ञान पाने वाला व्यक्ति | जीवन में अवश्य सफलता पाता है, गुरु की ज्ञान से उजाला हो जाता है | जीवन के हर मुसीबत में, गुरु का ज्ञान ही काम आता है | अँधेरे में छिपी हुई एक मोमबत्ती, जलने के लिए बेताब रहती है |&nb...
clicks 0 View   Vote 0 Vote   5:32am 16 Aug 2018
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" at चर्चामंच...
आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत है  हँसते-हँसते 'जय हिन्द'बोला लहरा के तिरंगा भारत का तिरंगा कोशिश  हमारा हिंदुस्तान राजपथ पर योग नागपंचमी-तीज बाबला सरल भाषा में महत्त्वपूर्ण विषयों को उठाती कविताएँ वेश्‍या एक ऐसा शब्‍द है दुआ करें या दवा करें अपरिच...
clicks 9 View   Vote 0 Vote   5:00am 16 Aug 2018
Blogger: साहित्य शिल्पी at साहित्य शिल्...
  रचनाकार परिचय:- ललित गर्ग ई-253, सरस्वती कुंज अपार्टमेंट 25 आई. पी. एक्सटेंशन, पटपड़गंज, दिल्ली-92 फोनः 22727486, 9811051133 विदेशों में ही क्यों बढ़ रही है हिन्दी की ताकत -ललित गर्ग- भारत एक है, संविधान एक है। लोकसभा एक है। सेना एक है। मुद्रा एक है। राष्ट्रीय ध्वज एक है। लेकिन इन सबके अ...
clicks 4 View   Vote 0 Vote   12:00am 16 Aug 2018
Blogger: yashvardhan srivastav at कविता संकलन ...
एक ऐसा भारत हो,जहां आपस  में ना भेद हो।प्रेम के प्रति प्रेम हो।जहां हर तरफ हरियाली हो,वातावरण में फैली खुशहाली हो।।हर जनजाति का सम्मान हो,पशु-पक्षियों सेभी सबको,प्यार हो।प्लास्टिक का ना नाम हो,गंगा - यमुना, हर नदी साफ हो।सफल स्वच्छ - भारत अभियान हो।।डिजिटल पावर में भी ...
clicks 0 View   Vote 0 Vote   11:27pm 15 Aug 2018

 
CONTACT US ADVERTISE T&C

Copyright © 2009-2013